Tuesday , September 26 2017
Airtel Vs Jio

एयरटेल के सबसे तेज नेटवर्क होने के दावे पर जियो ने की शिकायत, विज्ञापन को बताया भ्रामक

टेलीकाॅम कंपनियों में चल रही प्रतिस्पर्धा कटू होती जा रही है। कोई भी कंपनी एक-दूसरे को नीचा दिखाने का मौका नहीं छोड़ना चाहती है। एयरटेल ने अभी कुछ दिनों से ही दावा करना शुरु किया है कि वह देश का सबसे तेज नेटवर्क है औऱ वह भी आधिकारिक रुप से। इस पर कंपनी ने विज्ञापन दिखाना भी शुरु किया है जिसमें वह यह दावा कर रही है। लेकिन एयरटेल के इस दावे पर रिलायंस जियो ने एडवरटाइजिंग स्टैंडर्ड काउंसिल आॅफ इंडिया से शिकायत की है। जियो का कहना है कि एयरटेल के सबसे तेज दावे के विज्ञापन भ्रामक है और उनका आधार सही नहीं है।

एयरटेल देश का सबसे बड़ा टेलीकाॅम नेटवर्क है। लेकिन पिछले कुछ समय से इसे नई कंपनी जियो से कड़ी टक्कर मिल रही है। कुछ इसी तरह की शिकायत एयरटेल के खिलाफ पहले भी की जा चुकी है। जिसमें कंपनी प्लान में फ्री सुविधाएं देने की बात करती है। लेकिन असल में उसके लिए पैसा भी वसुलती है। जियो ने अपनी नई शिकायत में एयरटेल की अपनी वेबसाइट आदि पर दिखाए गए सबसे तेज आधिकारिक नेटवर्क होने के दावे को नकारा है।

गौरतलब है कि हाल ही में एयरटेल ने दावा किया था कि स्पीडटेस्ट डाॅट नेट वेबसाइट की ओऱ से उसे देश के सबसे तेज नेटवर्क होने का अवार्ड मिला है। स्पीड टेस्ट एक लोकप्रिय वेबसाइट है जिससे विभिन्न नेटवर्क आदि पर इंटरनेट की स्पीड की जांच की जाती है। एय़रटेल का कहना है कि उसने वेबसाइट से मिले डाटा के अनुसार ही सबसे तेज नेटवर्क होने का दावा ठोंका था औऱ यह देशभर में विभिन्न यूजर से मिले डाटा के आधार पर था।

रिलायंस जियो ने अपनी शिकायत में फोन राडार समेत कई टेक्नोलाॅजी ब्लाॅग का हवाला देते हुए कहा है कि सभी में एयरटेल के सबसे तेज होने के दावे का खंडन किया गया है। जिससे साबित होता है कि एयरटेल भ्रम फैला रहा है। आप फोन राडार की ओर से टेस्ट किए गए वीडियो को नीचे भी देख सकते हैं। जिसका इस्तेमाल रिलायंस जियो ने अपनी शिकायत में किया है। वीडियो में साफ दिखाया गया है कि ओखला की ओर से डवलप की गई यह स्पीड टेस्ट ऐप गलत रिजल्ट दिखा रही है। ड्यूल सिम स्मार्टफोन पर स्पीड टेस्ट करने पर यह एयरटेल के रिजल्ट को ही दिखाती है। जबकि डाटा उस समय जियो के नेटवर्क से कनेक्ट था।

ओखला अपनी स्पीड टेस्ट ऐप के इंडस्ट्री में बेस्ट होने का दावा करता है। लेकिन इस मामले में इसे भी मुंह की खानी पड़ी है। जियो ने यही शिकायत पत्र ओखला को भी भेज जवाब मांगा है। मामले को देखकर लगता है कि इस पर किसी का ध्यान नहीं गया औऱ गलती काफी लम्बे समय से हो रही है। हालांकि इंटरनेट की स्पीड मापने के लिए ट्राई ने भी अपनी खुद की सर्विस लाॅन्च की थी। जिसमें इसी वर्ष के जनवरी माह में रिलायंस जियो की स्पीड को सबसे तेज बताया गया था।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

Airtel

एयरटेल ने बदले अपने ब्राॅडबैंड प्लान, अब दे रहा दोगुना डाटा

रिलायंस जियो फाइबर के देश में लांच होने का असर अन्य रोड कंपनियों पर दिखना …