Monday , April 24 2017
BHIM App

अब पेमेंट करना हुआ आसान, भारत सरकार ने लाॅन्च किया भीम-आधार पेमेंट सिस्टम

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज नागपुर में भीम-आधार प्लेटफाॅर्म को लोगों के लिए लाॅन्च कर दिया। अब आप अपने आधार नंबर और अंगूठे के स्कैन से ही पेमेंट कर सकेगें। इस नए प्लेटफाॅर्म के साथ आपका अंगूठा एक तरह से पासवर्ड का काम करेगा। भीम के UPI सिस्टम से जुड़े होने के कारण इस तरीके से पेमेंट करने से पैसा सीधे आपके बैंक से कटेगा। इस नए प्लेटफाॅर्म को भारतीय संविधान निर्माता डाॅ. भीमराव अंबेडकर की 126 वें जन्मदिवस पर लाॅन्च किया गया है। इसके साथ ही कई तरह की घोषणाएं भी की गई है।

क्यों है ये महत्वपूर्ण

इस नए प्लेटफाॅर्म में देश में पेमेंट करने के तरीके को बदलने का पूरा माद्दा है। इसके लिए सरकार भी पूरी तरह समर्पित दिख रही है। घोषणा के साथ ही कई तरह के इन्सेन्टिव और आॅफर की भी घोषणा की गई है। जिससे उम्मीद की जा रही है कि पेमेंट का यह नया तरीका जल्द ही लोगों के बीच तेजी से पहुंच जाएगा और लोकप्रिय हो जाएगा। अगर सबकुछ प्लान के हिसाब से हुआ तो कैश पेमेंट पूराने जमाने की बात हो जाएगा। यूजर औऱ व्यापारी दोनों के लिए इन्सेन्टिव स्कीम रखी गई है।

ऐप रेफर पर 10 रुपए इनाम

अगर आपने भीम ऐप को पहले से अपने स्मार्टफोन में इंस्टाॅल कर रखा है औऱ इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। तो आपके लिए एक खुशखबरी है कि अब आप भीम ऐप से पैसा भी कमा सकते हैं। प्राइवेट मोबाइल वाॅलेट की तरह ही सरकारी ऐप भीम को भी लोकप्रिय बनाने के लिए रेफरल स्कीम लाॅन्च की गई है। इस स्कीम का नाम भीम रेफरल बोनस स्कीम रखा गया है। यह रेफरल स्कीम 14 अप्रैल से अगले छह माह तक के लिए चलेगी। भीम ऐप से किसी नए यूजर को जोड़ने पर आपको प्रत्येक बार 10 रुपए इनाम मिलेगा। बशर्ते नए यूजर को जुड़ने के बाद तीन ट्रांजेक्शन करने होगें। जिसके बाद इनाम आपके अकाउंट में डाल दिया जाएगा। यह स्कीम केवल 14 अक्टूबर तक ही चलेगी। इतना ही नहीं भीम ऐप से जुड़ने वाले नए यूजर के अकाउंट में भी सरकार 25 रुपए डाल देगी। इस तरह भीम से जुड़ने पर दोनों को ही फायदा होगा।

व्यापारियों को हर महीने कैशबैक

देश में ज्यादा से ज्यादा व्यापारी भीम प्लेटफाॅर्म का इस्तेमाल करें। इसके लिए सरकार ने व्यापारियों के लिए भी भीम मर्चेन्ट कैशबैक स्कीम लाॅन्च की है। इसके अन्तर्गत व्यापारी 50 से 100 ट्रांजेक्शन भीम से करवाता है तो उसे महीने के अंत में 100 रुपए का कैशबैक दिया जाएगा। वहीं 200 से ज्यादा ट्रांजेक्शन होने की स्थिति में 300 रुपए तक 50 पैसे प्रति ट्रांजेक्शन की दर से पैसा दिया जाएगा। बस शर्त यह है कि व्यापारी को ग्राहक से भीम ऐप के QR कोड या वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (VPA) या ‘पे टू आधार’ फीचर का इस्तेमाल करना होगा। व्यापारी के खाते में कैशबैक प्रत्येक माह की 7वीं तारीख को कर दिया जाएगा। व्यापारियों के लिए इस स्कीम में एक शर्त है कि 50 ट्रांजेक्शन में से कम से कम 20 कस्टमर अलग होने चाहिए औऱ रिपीट नहीं होने चाहिए।

क्या है आधार-पे?

भीम और आधार कार्ड के मिक्स को ही आधार-पे कहा जा रहा है। इसमें पेमेंट करने के लिए आपको स्मार्टफोन, कार्ड की जरुरत नहीं पड़ती। इस तरह से पेमेंट करने के लिए आपके पास केवल आधार नंबर और अगुंठे का ठप्पा होना चाहिए। इसका सेटअप एक दुकानदार के पास होता है। जब आपको व्यापारी को पेमेंट करने की जरुरत पड़ती है तो आप उसे अपना आधार नंबर बताएं और मशीन पर अंगुठे का स्कैन पासवर्ड के तौर पर दे दे। ध्यान रखें कि इस तरह से पेमेंट करने के लिए आपके आधार नंबर से बैंक अकाउंट कनेक्ट होना चाहिए। इंडिया को डिजीटल बनाने की ओर सरकार का यह बड़ा कदम है।

आधार-पे के फायदे

आधार-पे का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इस तरह के पेमेंट करने में आपको आधार नंबर के अलावा कुछ भी नहीं देना होता। यहां तक कि कार्ड से पेमेंट करते समय पिन भी याद नहीं रखना पड़ता। वहीं कार्ड की डिटेल तो बिल्कुल भी व्यापारी से शेयर नहीं करनी पड़ती। कई बार कार्ड से पेमेंट करने पर कार्ड को ही क्लोन कर बैलेंस चोरी के मामले देखने को मिले है। ऐसा भी आधार-पे के साथ नहीं हो सकता। यह पूरी तरह से फ्री है औऱ इस तरह से पेमेंट करने में कोई चार्ज भी नहीं लगता।

वर्तमान में करीब 30 बैंक भीम-आधार से जुड़े हुए है औऱ जल्द ही अन्य बैंक भी जुड़ने वाले हैं। भीम के वर्तमान में पहले से ही 18 मिलियन यूजर है। भीम को शुरु में हिन्दी औऱ अंग्रेजी में लाॅन्च किया गया था। लेकिन अब यह ज्यादातर भारतीय क्षेत्रीय भाषाओं को सपोर्ट करती है। इसके साथ ही ऐप का यूजर इंटरफेस को भी अभी तक सरल ही रखा गया है। जिससे यह इस्तेमाल में भी बहुत ही आसान है। आपका इस बारे में क्या सोचना है, हमें कमेंट कर जरुर बताएं। आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे जरुर शेयर करें।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

OnePlus 3T KBC

अब वनप्लस नहीं दिखा पाएगा अमिताभ बच्चन KBC वाला विज्ञापन, जानिए क्यों

आपने चीनी कंपनी वनप्लस के एंड्रॅायड स्मार्टफोन वनप्लस 3T का अमिताभ बच्चन के साथ ‘कौन …