Monday , April 24 2017
leEco

85% स्टाफ हटाने के बाद LeEco इंडिया छोड़ने की तैयारी में

ग्लोबल इंटरनेट कंपनी LeEco ने कुछ वर्ष पहले ही इंडिया में अपनी एंट्री की थी और अपने किफायती स्मार्टफोन के साथ बाजार में पकड़ बनाने की कोशिश की थी। कंपनी ने शुरु में मार्केटिंग में बहुत जोर आजमाया था और शुरुआती समय कंपनी के लिए सही भी रहा था। लेकिन चीजें उस समय बदलान शुरु हो गई जिस समय कंपनी के मालिक जियो यूटिंग ने एक लम्बा पत्र लिखकर माना कि कंपनी के पास अब कम पैसा बचा है। अब एक नई रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी को बाजार में बने रहने तक के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है।

जानकारी के मुताबिक LeEco ने करीब 85 प्रतिशत अपने भारतीय कर्मचारियों को निकाल दिया है। यह बहुत बड़ी बात है क्योंकि वे बाजार में ठीक-ठाक परफोर्म कर रहे थे। हालांकि कई कारणों के चलते ये होने ही वाला था। LeEco ने विज्ञापनों के लिए बहुत बजट निर्धारित कर रखा था औऱ उन्होंने इस पर बहुत पैसा खर्चा भी था। इससे उन्हें देश में अपने प्रतिस्पर्धियों से आगे बढ़ने में भी मदद मिली थी। लेकिन LeEco जल्द ही शाओमी, ओप्पो, विवो आदि से बहुत पीछे रह गया और इसमें 80 करोड़ के विज्ञापन के बजट का भी हाथ रहा।

LeEco ने भारत में आॅफलाइन फोन बेचना दिसम्बर से ही बंद कर दिया था। ठीक उसी समय चीजें भी कंपनी के लिए बदलना शुरु हो गई। इन सभी केे बीच भी कंपनी ने अपने सुपर टीवी सीरीज को इंडिया में लाॅन्च किया। हालांकि इनमें भी बिक्री कम ही रही। कंपनी की इरोज नाउ के साथ हुई साझेदारी भी फिर खत्म हो गई।

अब LeEco इंडिया में कोई भी स्मार्टफोन लाॅन्च नहीं करेगा। लेकिन दूसरी ओर कंपनी के पूराने फोन को नई अपडेट मिल रही है जो अचंभित करने वाला है। और यह भी बताया जा रहा है कि यह बेहतर रुप से हो रहा है। कंपनी ने अपने बैंगलूरू स्थित रिसर्च और डवलपमेंट सेंटर वाले स्टाॅफ को भी निकाल दिया है। वहीं दूसरी ओर कंपनी के दिल्ली और मुंबई आॅफिस में मामूली स्टाॅफ रहेगा।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

windows vista

माइक्रोसाॅफ्ट ने विंडोज विस्टा OS को पूरी तरह किया रिटायर

हाल ही में माइक्रोसाॅफ्ट ने अपने आॅपरेटिंग सिस्टम विंडोज 10 को लेटेस्ट क्रिएटर अपडेट दी …