Friday , May 26 2017
make in india smartphones
make in india smartphones

वर्ष 2017 में इंडिया में होगा 1 लाख करोड़ रुपए के मोबाइल फोन का निर्माण

भारत सरकार की ‘मेक इन इंडिया’ की पहल इस वर्ष सार्थक साबित हो सकती है। ‘मेक इन इंडिया’ के तहत कई कंपनियों ने भारत में ही अपने स्मार्टफोन औऱ मोबाइल बनाना शुरु कर दिया है। आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने बताया है कि इस वर्ष देश में 1 लाख करोड़ रुपए के स्मार्टफोन औऱ मोबाइल का निर्माण होगा। जो कि पिछले वर्ष के मुकाबले कहीं ज्यादा है। वर्ष 2014-15 में देश में केवल 18,900 करोड़ रुपए के मोबाइल फोन का निर्माण हुआ था। इस तरह से दो साल के अंदर ही देश में स्मार्टफोन निर्माण पांच गुना से भी ज्यादा बढ़ गया है। जल्द ही अन्य कंपनियां भी भारत में ही अपने स्मार्टफोन बनाने की तैयारी में लगी है औऱ अपनी निर्माण यूनिट शुरु करने जा रही है। हालांकि ये कंपनियां अपने फोन का पूरी तरह भारत में निर्माण नहीं करती। केवल इन फोन की असेम्बलिंग ही देश में होती है।

गौरतलब है कि इंडिया विश्व के सबसे तेजी से उभरते स्मार्टफोन बाजार में से एक है। इस साल देश में 200 मिलियन से भी ज्यादा मोबाइल डिवाइस के निर्माण का अनुमान लगाया जा रहा है। यह भारत सरकार की ओर से देश में ही इलेक्टाॅनिक्स निर्माण पर जोर देने का नतीजा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक रवि शंकर प्रसाद ने बताया कि इस वर्ष इंडिया करीब 97,000 करोड़ रुपए से भी ज्यादा के मोबाइल फोन का निर्माण करेगा। इस दौरान इंडिया में मोबाइल फोन की करीब 40 फैक्टरियां खुल गई है। इनमें विश्व की कई शीर्ष कंपनियां भी शामिल है।

रविशंकर प्रसाद ने बताया कि “अगर आप आउटपुट पर नजर डाले तो पाएंगे कि इस वर्ष देश में 200 मिलियन डिवाइस का निर्माण होगा। जबकि दो साल पहले तक देश में केवल 60 मिलियन डिवाइस ही बनते थे।” देश में मोबाइल फोन निर्माण में वृद्दि का एक कारण आयात करने की तुलना में इन पर मिलने वाली 12 प्रतिशत छूट को भी बताया जा रहा है। इसी के चलते पिछले दो साल में कई कंपनियों ने अपनी निर्माण इकाइयां देश में ही खोल ली है और कम कीमत में लोगों को स्मार्टफोन आदि बेच रही है।

इन कंपनियों में कई चीनी कंपनियां भी शामिल है। जिनमें हुवावे, लेनोवो, मोटोरोला, शाओमी औऱ जियोनी प्रमुख है। वहीं घरेलू कंपनियों में इंटेक्स, लावा, कार्बन और माइक्रोमैक्स प्रमुख है।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

Android vs iphone (1)

सर्वे में आया सामने, आईफोन वाले एंड्राॅयड यूजर से ज्यादा वफादार

मोर्गन स्टेनली के एक सर्वे में सामने आया है कि ज्यादातर आईफोन यूजर आने वाले …