Sunday , June 25 2017
Whatsapp messages

अफवाह या सच! – क्या 777888999 से काॅल आने पर फोन फटेगा?

दोस्तों, आजकल व्हाट्सऐप और अन्य मैसेजिंग ऐप्स पर एक मैसेज बहुत वायरल हो रहा है। जिसमें आपसे कहा जाता है कि नौ अंकों वाले नंबर से फोन आए तो मत उठाना, नहीं तो आपका फोन ब्लास्ट हो सकता है। इसके साथ ही मैसेज में उस संदेश को सभी लोगों और ग्रुप को भेजने के लिए भी कहा जाता है। यह मैसेज व्हाट्सऐप पर अंग्रेजी, हिन्दी समेत कई भाषाओं में भेजा जा रहा है। आपको भी कई लोगों ने ये मैसेज भेजा होगा औऱ विभिन्न ग्रुपों में भी यह मैसेज आप देख ही चुके होगें।

इस मैसेज से लोगों के बीच भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है कि क्या किसी नंबर से काॅल आने पर फोन ब्लास्ट भी हो सकता है। क्योंकि देश में केवल दस अंकों वाले मोबाइल नंबर वर्तमान में प्रचलित है। कोई भी कंपनी की सिम लेने पर दस अंकों का ही नंबर मिलता है। नौ अंकों के नंबर से आजतक आपको काॅल आई भी नहीं होगी। इसी के चलते लोगों में इस मैसेज से डर बैठाया जा रहा है। यह मैसेज सच है या फिर अफवाह हम इस आर्टिकल में आपको बताने जा रहे हैं।

आप खुद सोचिए कि क्या अभी तक कोई ऐसी तकनीक बनी है जिसमें मोबाइल पर एक विशेष नंबर से काॅल करने पर वह फट जाए। अभी तक मोबाइल केवल बैटरी में कुछ फाॅल्ट होने या फिर फोन के ज्यादा गर्म होने की स्थिति में ही फटते आ रहे हैं। आप चाहे तो सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 का उदाहरण ले सकते हैं। जिसमें सैमसंग ने खुद बैटरी में खराबी को फाॅल्ट होने का कारण माना था। बाकि कंपनियों के फोन भी ज्यादातर बैटरी की वजह से ही फटते आ रहे हैं। अभी तक ऐसी कोई समस्या या तकनीक सामने नहीं आई है जिसमें केवल काॅल करने से फोन फट जाएं।

व्हाट्सऐप पर भेजे जा रहे इस मैसेज के बारे में कुछ लोगों की यह भी दलील है कि उन्होंने मूवी आदि में मोबाइल बम के बारे में देखा है। मोबाइल बम में केवल काॅल की जाती है औऱ फिर सामने वाला उस फोन को उठा ले तो वह फट जाता है। ऐसा कई मूवीज में दिखाया जाता है। लेकिन इस बारे में हम यह कहना चाहते हैं कि मूवी में दिखाए गए उस तरह के बम में पूरा एक सेटअप होता है। मतलब कि मोबाइल के साथ आरडीएक्स वगैरह होता है जो फटता है। लेकिन मैसेज में फैलाई गई अफवाह में केवल फोन को आधार बनाकर ब्लास्ट होने की बात कही गई है। किसी भी नंबर से केवल काॅल करने से फोन नहीं फटता है।

इसलिए हम टेक संदेश के पाठकों को बताना चाहते हैं कि व्हाट्सऐप पर भेजा जा रहा वह मैसेज कोरी अफवाह है और उसे आगे ना भेजकर आप अफवाह फैलने से रोक सकते हैं। यह बात साफ है कि किसी भी नौ अंक वाले नंबर से काॅल आने पर आपका फोन नहीं फटेगा। आपकी जानकारी के लिए यह भी बता दें कि भारत से काॅल आने वाले नंबरों के आगे +91 लिखा होता है। +91 भारत का कंट्री कोड है। अगर आपको इसके अलावा अन्य कोड से काॅल आती है मतलब आपको किसी दूसरे देश से काॅल आई है। इसलिए उस बारे में भी चिंतित ना हो।

अगर आपको भी किसी ने कुछ इसी तरह का मैसेज व्हाट्सऐप पर भेजा है तो अपने उस दोस्त के साथ आप हमारा यह आर्टिकल शेयर कर सकते हैं। औऱ उसकी शंकाओं का निवारण कर सकते हैं। इसके साथ ही इस आर्टिकल को लोगों को भेज उन्हें अफवाहों के बारे में जागरूक करें। अगर इसके अलावा भी आपको व्हाट्सऐप पर कुछ इसी तरह के मैसेज आते हैं तो उन्हें हमारे साथ शेयर करना ना भूलें, हम उस मैसेज के पीछे की सच्चाई को आपके सामने ले आएंगे।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

Narendra modi laptop

अफवाह या सच – क्या वाकई में नरेन्द्र मोदी व्हाट्सऐप पर फ्री लैपटाॅप दे रहे हैं?

व्हाट्सऐप पर अफवाह फैलाने वाले अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। आजकल व्हाट्सऐप …