Sunday , October 22 2017
Apple iPhone
Apple iPhone

ऐप्पल बनाएगा भारत में आईफोन, अप्रैल से बैंगलुरू में निर्माण कार्य शुरु होने की संभावना

जल्द ही बैंगलुरू में एक फैक्टरी में ऐप्पल आईफोन का निर्माण शुरु हो जाएगा। कल ही कर्नाटक सरकार ने एक प्रेस रिलीज जारी कर ऐप्पल के भारत में ही आईफोन बनाने के कदम का स्वागत किया है। रिलीज के अनुसार कर्नाटक की सरकार कंपनी के कदम का स्वागत करती है जिसके बाद भारत दुनिया का तीसरा देश बन जाएगा जहां आईफोन का निर्माण या असेंबली होती है। कर्नाटक के आईटी मिनिस्टर प्रियंक खड़गे ने खुद प्रेस रीलिज पर अपने हस्ताक्षर किए है। ऐप्पल का भारत में आईफोन बनाना देश के प्रति कंपनी के भविष्य के प्लान की महत्ता भी बताता है। वर्तमान में ऐप्पल दुनिया की सबसे मूल्यवान कंपनियों में से एक है।

प्रेस रिलीज के अनुसार, “ऐप्पल के बैंगलुरू में निर्माण की इच्छा राज्य में नवीनतम तकनीकी इकोसिस्टम को डवलप करने में मदद करेगी। जो कि भारत को दुनिया में तकनीक के क्षेत्र में पैर पसारने में मदद करेगा। कर्नाटक सरकार किसी भी सेक्टर में निर्माण के लिए नई पहल लेने के लिए तत्पर है। साथ ही इन्वेस्टमेंट के लिेए अनुकूल वातावरण प्रदान करने के लिए भी तैयार है।”

ऐप्पल इंडिया में ही एक फैक्टरी खोलने की अपनी इच्छा को पहले से ही जता चुका था। अब कर्नाटक सरकार के वेलकम नोट के साथ बाकि के बचे हुए प्रोसेस को भी जल्द ही पूरा करने में मदद मिलेगी। ऐप्पल जल्द ही इंडिया में आईफोन बनाना शुरु कर देगा। शुरुआत में कंपनी देश में केवल छोटे निर्माण आपरेशन ही करेगी। हालांकि इस बारे में अभी कोई टाइमलाइन पता नहीं चल सकी है। लेकिन बताया जा रहा है कि कंपनी देश में इसी साल अप्रैल माह में निर्माण शुरु कर देगी। भारत में ताइवानी कंपनी विस्ट्रान आईफोन बनाएगी। विस्ट्रान ऐप्पल के लिए कई तरह के उपकरण भी बनाती है।

ऐप्पल ने बैंगलुरू में फैक्टरी के लिए पहले से ही जगह चिन्हिंत कर ली है। लेकिन इस बारे में भी कंपनी की ओर से किसी भी तरह का पुष्टीकरण होना बाकी है। ऐप्पल के सीनियर एक्जीक्यूटिव जैसे आईफोन ऑपरेशन्स की वाईस प्रेजिडेंट प्रिया बालासुब्रमणयम, आईफोन ऑपरेशन्स डायरेक्टर धीरज चुग और कंपनी के सरकारी मामलों के सीनियर मैनेजर (इंडिया एंड द मिडिल ईस्ट) अली खानफर भी कई केन्द्र और राज्य के सरकारी अधिकारियों से पहले ही मीटिंग कर चुके हैं।

आईफोन फैक्टरी अपने राज्य में खोलने के दौड़ में गुजरात, महाराष्ट्र और तेलंगाना सरकारें भी थी। लेकिन अंत में कर्नाटक सरकार ने बाजी मार ली। इस बारे में कर्नाटक के आईटी मिनिस्टर खड़गे का कहना है कि हमने ऐप्पल तक सीधे पहुंचने के लिए पुख्ता प्रयास किए। हम वैश्विक कंपनी जैसे ऐप्पल के लिए अनुकूल वातावरण तैयार करना चाहते हैं। ऐप्पल CEO टिम कुक पिछले साल अपने भारत दौरे के दौरान भी कई सरकारी अधिकारियों समेत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी मिल चुके हैं। ऐप्पल का भारत में ही आईफोन बनाना कंपनी के फैन्स के लिए बहुत ही सहायक होगा। इससे ना केवल देश में आईफोन की आसमान छूती कीमतें जमीन पर आ जाएगी। बल्कि ऐप्पल के नए आईफोन भी देश में जल्द ही मुहैया हो पाएंगे।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

best smartphone (1)

5,000 रुपये से कम में बेस्ट मोबाइल फोन – जून 2017

स्मार्टफोन निर्माताओं के बीच चल रही गलाकाट प्रतिस्पर्धा के साथ किफायती स्मार्टफोन भी अब बेहतर …