Tuesday , June 27 2017
Telecom tower

गलत रिचार्ज प्लान एक्टिवेट करने पर कंपनी को ग्राहक को देना पड़ा 15 हजार रुपए जुर्माना

एक ग्राहक के नंबर पर दूसरा रिचार्ज प्लान एक्टिवेट करना टाटा डोकोमो को मंहगा पड़़ गया। ग्राहक ने जिला कंज्यूमर फोरम में कंपनी की शिकायत कर दी और फोरम ने डोकोमो को ग्राहक को 15 हजार रुपए देने का आदेश दे दिया। यह मामला एक बहुत ही अच्छा उदाहरण है जिसमें अगर टेलीकाॅम कंपनी आपके नंबर पर गलत रिचार्ज कर दे तो आप भी कुछ इसी तरह शिकायत कर सकते हैं। कुछ गलत हो जाने की स्थिति में सबसे पहले कंपनी के कस्टमर केयर नंबर पर फोन कर मदद मांगे। मदद ना मिल पाने की स्थिति में कंज्यूमर फोरम पर शिकायत भी की जा सकती है

दरअसल हुआ यूं कि हैदाराबाद के शंकर लाल अग्रवाल ने अपनी डोकोमो की सिम पर 255 रुपए का रिचार्ज टाटा डोकोमो की ही ई-शाॅप से करवाया था। प्लान के अंदर शंकर को बताया गया था कि उनकी आउटगोइंग काॅल्स 1 पैसा/सेकण्ड की दर हो जाएगी। यह दर सभी नेटवर्क औऱ लैंडलाइन पर जाने वाली आउटगोइंग काॅल्स के लिए थी। साथ ही प्लान में अन्य बेनिफिट भी दिए जा रहे थे। लेकिन डोकोमो ने उनके नंबर पर कोई दूसरा रिचार्ज कर दिया। जिससे मोबाइल पर आउटगोइंग काॅल्स 1.6 पैसा/सेकण्ड और लैंडलाइन पर 2 पैसा/सेकण्ड की हो गई। डोकोमो ने शंकर के नंबर पर गलत रिचार्ज कर दिया था।

जब उन्हें इसका पता चला तो उन्होंने डोकोमो से संपर्क किया और कंपनी को फोन करने के साथ ही ईमेल आदि भी भेजे। लेकिन कंपनी ने उनकी कोई सहायता नहीं की। यहां तक कि शंकर ने नेशनल कंज्यूमर हेल्पलाइन – जागो ग्राहक जागो पर भी काॅल कर शिकायत की। लेकिन कुछ भी नहीं हुआ। इसके बाद शंकर ने सीधे जिला कंज्यूमर फोरम पर शिकायत की और न्याय की गुहार लगाई। तब जाकर मामले का निपटारा हुआ और फोरम ने कंपनी पर जुर्माना लगा दिया।

jago grahak jago

शिकायत के बाद कंपनी की ओर से चौंकाने वाला बयान सामने आया। कंपनी का कहना है कि शिकायत कंपनी के ब्रांच मैनेजर के खिलाफ की गई है जो कि हमारे यहां कोई पद ही नहीं है। और अगर ऐसा कोई पद होता तो भी उसे कंपनी के रोजमर्रा के कामकाज के लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। इसके अतिरिक्त टाटा डोकोमो केवल एक ब्रांड नाम है और यह कोई कंपनी नहीं है। इसलिए इस तरह की कोई शिकायत बनती ही नहीं है।

लेकिन फोरम डोकोमो की इस दलील से प्रभावित नहीं हुआ और बेंच ने ग्राहक के पक्ष में फैसला सुना दिया। बेंच ने कंपनी को सर्विस ना दे पाने की स्थिति में 10 हजार रुपए क्षतिपूर्ति और खर्चे के लिए 5 हजार रुपए ग्राहक को देने के लिए कह दिया।
Source – TOI

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

bsnl satellite phone

BSNL ने लाॅन्च की सैटेलाइट फोन सर्विस, देश के हर इलाके तक होगी पहुं

सरकारी कंपनी BSNL ने देश में अपनी सैटेलाइट सेवा शुरू कर दी है। यह सेवा …