Saturday , October 21 2017
Wi-Fi in Indian Railways
Wi-Fi in Indian Railways

गूगल के बाद अब फेसबुक भी देगा भारतीय रेलवे स्टेशनों और गांवों में फ्री वाई-फाई

इस साल की शुरुआत में गूगल ने देश के शहरों में फ्री हाई-स्पीड पब्लिक वाई-फाई सर्विस की घोषणा की थी। कंपनी का मकसद साल के अंत तक कम से कम 100 शहरों में हाई-स्पीड पब्लिक वाई-फाई सर्विस पहुंचाने का है। यह बहुत ही अच्छा प्रयास है और गूगल को इसके लिए भारतीय सरकार से पूरा सपोर्ट भी मिल रहा है। गूगल से कदमताल मिलाते हुए अब सोश्यल मीडिया कंपनी फेसबुक भी ऐसा ही कुछ ला रही है। इंडियन रेलवे के चेयरमैन आरके बहुगुणा का कहना है कि वे जल्द ही फेसबुक से वाई-फाई सर्विस शुरू करने के लिए संपर्क करेगें। उन्होंने यह भी बताया कि यह सर्विस केवल रेलवे स्टेशनों तक ही सीमित नहीं रहेगी। बल्कि दूर-सुदुर गांवों में भी पहुंचाई जाएगी।

यह सर्विस रेलटेल की भागीदारी के साथ अॊफर की जाएगी। रेलटेल ने देश के करीब 4,000 रेलवे स्टेशनों पर आप्टिक फाइबर नेटवर्क बिछा रखा है। यह भी बताया गया है कि इस पहल के साथ ही फेसबुक एक रेलवे स्टेशन की करीब 10 किलोमीटर की परिधि में इंटरनेट पहुंचा सकेगा और बाद में यह दूरी करीब 25 किमी तक भी बढाई जा सकेगी। फेसबुक इंडिया अभी देश में एक्सप्रेस वाई-फाई एक्सपेंशन के लिए कई इंटरनेट सर्विस फर्म्स के साथ बातचीत कर रहा है।

यह माना जा रहा है कि अगर ठीक से इसमें पैसा लगाया गया तो यह प्रोग्राम 4,000 इंटरनेट वाले रेलवे स्टेशनों के कम से कम 40,000 गांवों तक पहुंच सकता है। इसलिए हम उम्मीद कर सकते हैं कि देश के विभिन्न शहरों और उनके रेलवे स्टेशनों में हमें बेहतर इंटरनेट कनेक्टिविटी मिलेगी। इस मामले में ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ बने रहिए। रेलटेल चाहता है कि देश के छोटे रेलवे स्टेशनों को भी इंटरनेट से जोड़ा जाए। जिससे कि पास के गांवों में भी इंटरनेट कनेक्टिविटी पहुंच सके। गूगल और रेलटेल इंटरनेट प्रोग्राम के तहत पहले से ही देश के 21 रेलवे स्टेशनों पर हर महीने करीब 20 लाख लोग फ्री वाई-फाई की सुविधा का लाभ ले रहे हैं।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

best smartphone (1)

5,000 रुपये से कम में बेस्ट मोबाइल फोन – जून 2017

स्मार्टफोन निर्माताओं के बीच चल रही गलाकाट प्रतिस्पर्धा के साथ किफायती स्मार्टफोन भी अब बेहतर …