Friday , August 18 2017
trusted-contacts-app
trusted-contacts-app

गूगल लाया पर्सनल सेफ्टी ऐप, इमरजेंसी में शेयर करेगा अपनों की लोकेशन

अपने लोकप्रिय मैसेंजर एप्लीकेशन Allo के स्मार्ट रिप्लाई समेत अन्य फीचर को हिंदी में लॉन्च करने के बाद गूगल अब एक नई रोचक एप्लीकेशन लेकर आया है। Trusted Contacts नाम की यह ऐप गूगल प्ले स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। इस ऐप को इंस्टाॅल करने के बाद आप अपनी लोकेशन अपने परिवारजन या दोस्तों के साथ शेयर कर सकेगें। साथ ही उनकी भी लोकेशन आप देख पाएंगे। अगर आप किसी अप्रिय स्थिति में फंस गए है तो भी यह ऐप आपकी लोकेशन आपके परिवारवालों या दोस्तों को भेज देगी और मदद के तौर काम आ सकेगी। इमरजेंसी में यह ऐप बहुत काम आ सकती है क्योंकि आपकी लोकेशन परिवार और मित्रों को पता रहती है। और इस ऐप की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह फोन के आॅफलाइन होने पर भी काम करती है।

इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से एक बार अपने और अन्य लोगों के मोबाइल में इंस्टाॅल करने के बाद इसमें ट्रस्टेड काॅन्टैक्ट्स जोड़ने होते हैं। जिनमें आप अपने परिवार के किसी सदस्य या फिर दोस्त जिसे आप अपनी लोकेशन शेयर करना चाहते हैं को भी जोड़ सकते हैं। इसके बाद आप अपने मोबाइल के साथ जहां भी जाएंगे। यह ऐप आपकी लोकेशन उन्हें बताता रहेगा। इतना ही नहीं अगर आपके ट्रस्टेड काॅन्टैक्ट आपके लिए चिन्ता भी कर रहे हो तो वे आपसे इस ऐप से आपकी लोकेशन पूछ भी सकते हैं। आप चाहे तो लोकेशन रिक्वेस्ट को मना भी कर सकते हैं। साथ ही आप जब चाहे अपनी लोकेशन शेयर करना बंद भी कर सकते हैं।

यह ऐप आप चाहे तो अपने बच्चों के मोबाइल में भी इंस्टाॅल कर सकते हैं और आॅफिस जाने के बाद उनकी लोकेशन पर नजर रख सकते हैं। या फिर अगर आप कहीं बाहर जाने का प्लान बना रहे हैं तो भी घरवालों को अपनी लोकेशन बताने के हिसाब से यह बहुत काम की ऐप है।

इस ऐप में एक और फीचर आता है जिसके अनुसार अगर आप एक निर्धारित समय में लोकेशन एसेस के लिए रिप्लाई नहीं कर पाए तो यह ऐप आपकी लोकेशन खुद-ब-खुद ट्रस्टेड काॅन्टैक्ट के साथ शेयर कर देती है। और उसी हिसाब से आपसे संपर्क कर आपकी मदद कर पाएंगे। आप चाहे तो लोकेशन शेयरिंग को जब चाहे बंद भी कर सकते हैं।

सेफ्टी के हिसाब से कुछ समय पहले ही भारतीय सरकार ने भी स्मार्टफोन में पैनिक बटन और GPS होना अनिवार्य कर दिया है। वर्ष 2017 में इंडिया में लाॅन्च होने वाले सभी स्मार्टफोन में अब यह फीचर होगा। अभी वनप्लस 3 में भी एक साॅफ्टवेयर अपडेट के साथ पैनिक बटन का फीचर जोड़ दिया था। हालांकि गूगल की इन नई ऐप का काम भी इमरजेंसी में हेल्प करने के लिए ही बनाया है। लेकिन पैनिक बटन एक ओर जहां इमरजेंसी सेवाओं से संपर्क साध देता है तो वहीं ट्रस्टेड ऐप केवल आपकी लोकेशन ही परिजनों से शेयर करती है। लेकिन फिर भी स्मार्टफोन के लिए यह अच्छा फीचर है जो आमतौर पर ज्यादा यात्रा करने वाले या घर से बाहर रहने वाले लोगों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

इस एप्लीकेशन की सबसे बड़ी बात यह है कि यह ऑफलाइन भी काम करती है। यह आपकी आॅनलाइन होने की अंतिम समय की लोकेशन शेयर करती है। यह एक तरीके से SOS बटन की तरह ही है। जिसे आजकल कई हैंडसेट में इस्तेमाल भी किया जा रहा है। यह आपातकाल में बहुत काम आ सकती है। इस ऐप में यूजर 50 ट्रस्टेड काॅन्टैक्ट तक जोड़ सकता है। अभी यह गूगल प्ले स्टोर पर ही उपलब्ध है और जल्द ही ऐप्पल के iOS पर भी आ जाएगी। हालांकि इसके अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम पर भी आने के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं है। इस बारे में कुछ नया आने पर हम आपको जरुर अपडेट करेगें। तब तक के लिए फोन राडार पढ़ते रहिए।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

best smartphone (1)

5,000 रुपये से कम में बेस्ट मोबाइल फोन – जून 2017

स्मार्टफोन निर्माताओं के बीच चल रही गलाकाट प्रतिस्पर्धा के साथ किफायती स्मार्टफोन भी अब बेहतर …