Thursday , August 17 2017
Reliance Jio Sim card scam

रिलायंस जियो सिम बेचने में पुलिस ने पकड़ी धोखाधड़ी, जानिए आपके साथ भी हो सकता है ऐसा

तकनीक से लोगों का जीवन आसान हो रहा है तो वहीं दूसरी ओर कुछ शातिर लोग तकनीक में ही सेंध लगाकर अपने बुरे कामों को भी अंजाम दे रहे हैं। आपने फोटो आईडी देकर सिम खरीदी होगी और फर्जी आईडी वाले सिम कार्ड बेचने के मामले भी सुने होगें। वर्तमान में e-KYC मतलब आधार कार्ड आधारित सिस्टम आने से लोगों को राहत मिली थी कि उनकी डिटेल चुराकर कोई अन्य व्यक्ति सिम नहीं खरीद सकेगा। क्योंकि इसमें आधार नंबर देकर और अंगूठे का स्कैन करने के बाद ही सिम दी जाती है। लेकिन इस आधुनिक प्रक्रिया में भी सेंध लगाई जा चुकी है।

कुछ ऐसा ही मामला मध्यप्रदेश के इंदौर में देखने को मिला है। जहां शुक्रवार को पुलिस ने धोखा देकर सिम कार्ड बनाने और फिर उन्हें अन्य व्यक्तियों को बेचने के एक अनोखे मामले में छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। ये लोग फर्जी आईडी वाली सिम को 100 से 1000 रुपए में बेच रहे थे। इसके लिए खरीददार से किसी भी तरह के कागजात नहीं मांगे जाते थे।

ऐसे देते थे धोखा

फर्जी सिम बनाने के लिए अभियुक्त e-KYC पर ग्राहक से एक से ज्यादा बार अंगुठे का स्कैन करवा लेते थे। इसके साथ ही उसकी आधार कार्ड की जानकारी भी रख लेते थे। जिससे बाद में अन्य सिम को एक्टिवेट कर सके। एक सिम ग्राहक को फ्री में दे देते और उसी के नाम की अन्य सिमों को पैसा लेकर बेच देते थे। एडिशनल सुपरिटेंडेंट आॅफ पुलिस अमरेन्द्र सिंह के मुताबिक इनके पास से 346 रिलायंस जियो की सिम भी बरामद की है जिनमें से 14 प्री-एक्टिवेट है। इतना ही नहीं इनके पास से चार अंगूठे का स्कैन लेने वाली मशीने भी बरामद हुई है।
इस मामले में पुलिस अभी जांच कर रही है। मामले में यह भी देखा जा रहा है कि इन अभियुक्तों की ओर से बेची गई सिम किसी आपराधिक काम में इस्तेमाल हुई है। इस मामले में रिलायंस जियो को स्थानीय प्रतिनिधि की भी मदद ली जा रही है।

आप भी रहिए सतर्क

वर्तमान में लगभग सभी टेलीकाॅम कंपनियों ने e-KYC मतलब कि आधार कार्ड पर आधारित मोबाइल सिम ग्राहकों को देना शुरु कर दिया है। इस तरीके से सिम बेचना कंपनियों के लिए आसान हो गया है तो वहीं दूसरी ओर सिम एक्टिवेशन प्रक्रिया में भी तेजी आई है। जिससे ग्राहकों को राहत मिली है। लेकिन इस मामले को देखते हुए लगता है कि इस आधुनिक प्रक्रिया में भी कुछ लोगों ने सेंध लगा दी है। कुछ भी हो हमारे पाठकों से अनुरोध है कि वे इस तरह से सिम खरीदते हुए सतर्क रहे कि सामने वाला एक से ज्यादा बार आपके अंगूठे का स्कैन ना ले सके।
Source – Gadgets 360

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

Airtel

एयरटेल ने बदले अपने ब्राॅडबैंड प्लान, अब दे रहा दोगुना डाटा

रिलायंस जियो फाइबर के देश में लांच होने का असर अन्य रोड कंपनियों पर दिखना …