Friday , August 18 2017
Understanding Optical Image Stabilization
Understanding Optical Image Stabilization

स्मार्टफोन कैमरा में आॅप्टीकल ईमेज स्टेबलाइजेशन (OIS) क्या होता है? जानिए

आपके साथ ऐसा कई बार हुआ होगा कि कोई पिक्चर ले रहे हो और वह धूंधली आई हो। फोन को स्थिर रख पिक्चर लेने पर ही यह अच्छे रिजल्ट देता है। फोन का संतुलन सही नहीं होने पर पिक्चर भी बिगड़ जाती है। इस स्थिति में आॅप्टीकल ईमेज स्टेबलाइजेशन फीचर काम आता है।

आॅप्टीकल ईमेज स्टेबलाइजेशन (OIS)क्या है?

OIS OFF vs OIS ON

स्मार्टफोन्स में OIS का अभी कुछ साल पहले ही चलन आया है और अब हर अच्छे स्मार्टफोन कैमरा में OIS आता है। इस तकनीक के साथ स्मार्टफोन से भी बेहतर फोटो लेना आसान हुआ है। फिर चाहे आप किसी उबड़-खाबड़ जगह पर चलते-चलते ही फोटो क्यों ना ले रहे हो। कुछ साल पहले तक स्मार्टफोन में केवल डिजीटल ईमेज स्टेबलाइजेशन(DIS) आता था। लेकिन आजकल एक अच्छे कैमरे वाले फोन में भी OIS आ रहा है।

OIS vs DIS

इन दोनों तरह के स्टेबलाइजेशन में से कौनसा बेस्ट है इस पर चर्चा काफी लंबे समय से चल रही है। लेकिन इसका सबसे अच्छा जवाब यह है कि कोई कंपनी अपने स्मार्टफोन के कैमरे में इस तकनीक को कैसे लगाती है। फोटोग्राफी एक्सपर्ट्स के मुताबिक OIS को ही वास्तविक ईमेज स्टेबलाइजेशन कहते हैं। यह कैमरे से शूट करते समय अनचाहे कंपन या झटकों को हटा देता है और वीडियो स्मूथ बनती है।

वहीं दूसरी ओर, डिजिटल ईमेज स्टेबलाइजेशन एक तरह से डिजिटल ज़ूम की तरह है जिसमें जब शटर स्पीड कम होती है तो यह ISO का लेवल कम-ज्यादा कर देता है। लेकिन जब ISO अधिक हो जाता है तो पिक्चर अच्छी नहीं आती। यह भी कहा जाता है कि कुछ स्मार्टफोन जैसे सैमसंग गैलेक्सी S5 और HTC वन M8 में DIS भी OIS जितना ही अच्छा है।

OIS स्मार्टफोन में इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

OIS Phones

आप सोच रहे होगें कि स्मार्टफोन्स में OIS इतना महत्वपूर्ण क्यों है। वीडियो रिकाॅर्ड करते समय अनचाहे कंपन को हटाने के अलावा यह अंधेरे वातावरण में भी शूटिंग करने में मदद करता है। हालांकि आप दूसरे आॅप्शन जैसे सेंसिटिव सेंसर, हाईस्पीड लेंस को मैनुअली सेट कर भी काम चला सकते हैं। लेकिन ये सब केवल क्वालिटी को खराब ही करेगें।

ऊपर दिखाई गई स्थिति को OIS के साथ रोका जा सकता था। जायरोस्कोप हार्डवेयर सेंसर कैमरे में आने वाले झटकों को हटा सकता है और अच्छे वीडियो रिकार्ड कर सकता है। इसके अलावा OIS कैमरा मोड्यूल को तेज रिएक्शन लेने में मदद करता है। इसलिए आगे से स्मार्टफोन खरीदने जाए तो उसमें OIS है या नहीं जरुर देख ले।

OIS फोन

अगर आप कहीं घूमने जा रहे हैं और स्मार्टफोन से फोटोग्राफी करना चाहते हैं तो आपको अपने स्मार्टफोन के कैमरे की क्षमता पता कर लेनी चाहिए। अच्छे फोटो लेना स्मार्टफोन के कैमरे और अन्य उपकरणों पर ही निर्भर करेगा। 8 से 16 मेगापिक्सल का कैमरा फोटोग्राफी के लिए अच्छा रहेगा। इसके अलावा भी कुछ अन्य बातें है जिन्हें आपको ध्यान रखना चाहिए वह नीचे दी गई है-

ट्राईपोड

tripod

स्थिर शाॅट आना फोटोग्राफी का महत्वपूर्ण भाग है। इसलिए फोटो या वीडियो लेते समय हाथ संतुलित रखे। आप चाहे तो एक ट्राॅईपोड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे ना केवल फोटो और वीडियो अच्छे आएंगे। बल्कि संतुलन बनाने के लिए आपको मशक्कत भी नहीं करनी पड़ेगी।

साॅफ्टवेयर/ ऐप्स

जैसा कि हमने आपको बताया कि कई स्मार्टफोन्स में डिलीटल स्टेबलाइजेशन भी आता है तो इमेज आदि को बेहतर तरीके से लेने के लिए आप कुछ अलग भी कर सकते हैं। कुछ ऐप्स है जो आप अपने स्मार्टफोन में इंस्टाॅल कर भी धूंधली पिक्चरों से छूटकारा पा सकते हैं। इतना ही नहीं अगर पिक्चर में हल्की सी गड़बड़ी भी हटाई जा सकती है।

iOS

Emulsio

Emulsio

यह एक प्रोफेशनल वीडियो एडिटिंग ऐप है जो आपको शेकी वीडियो से छूटकारा दिलाएगी। यह एडवांस स्टेबलाइजेशन तकनीक के साथ आती है जो स्टेबलाइजर को अपने हिसाब से एडजस्ट करती है। यह ऐप वीडियो को सेव करने से पहले आपको प्रीव्यू दिखाती है। आप इसमें कई तरह के वीडियो एडिटिंग फंक्शन जैसे ट्रिम करना मतलब वीडियो के अनचाहे भागों को काटना आदि भी कर सकते हैं। इसके लिए आपके आईफोन में iOS 8.0 वर्जन होना चाहिए।

Android

Camera FX

गूगल प्ले स्टोर पर यह ऐप बहुत ही पोपुलर है और शायद आप इसके बारे में पहले से ही जानते भी होगें। अगर आप इसके बारे में नहीं जानते तो हम आपको बताना चाहेगें कि यह बेस्ट एंड्राॅयड कैमरा ऐप में से एक है। लेकिन जब हम OIS की बात कर रहे हैं तो यहां यह भी बताना जरुरी है कि यह ऐप तब तक कुछ भी कैप्चर नहीं करती जब इसे लगता है कि फोन हिल रहा है।

Open Camera

यह फ्री कैमरा ऐप है जिसे मार्क हरमन नाम के डवलपर ने बनाया है। यह भी कुछ बहुत अच्छे स्टेबलाइजेशन फीचर्स के साथ आती है। बिना हिले हुए वीडियो आदि इस ऐप से बहुत अच्छे से रिकार्ड किए जा सकते हैं।

फोन को पकड़ना

हाथ से फोन को स्थिर रख फोटोग्राफी करना आसान नहीं होता। कई लोगों को एक कैमरा चलाना नहीं आता, इस पर स्मार्टफोन का कैमरा तो दूर की बात है। लेकिन इसके बेसिक आपको पता ही होना चाहिए। फोन पर अपनी पकड़ अच्छे से बनाकर रखे और कंपकपाएं बिल्कुल भी नहीं। इससे फोटो और वीडियो अच्छी आएगी। स्मार्टफोन पर फोटोग्राफी कैसे करे? इसके तहत कम रोशनी में फोटोग्राफी कैसे करे जैसे अन्य आर्टिकल भी शेयर कर रहे हैं। आने वाले आर्टिकल्स में हम फोकस और डिफोकस के बारे में भी बात करेगें। आपको यह आर्टिकल कैसा लगा, हमें कमेंट सेक्शन में जरुर बताएं। इसके साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं तो वह भी बताएं।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

AAdhar

नंबर डिएक्टिवेट होने से बचाएं – आधार कार्ड से मोबाइल नंबर को लिंक कैसे करवाएं?

जैसा कि हमने आपको पहले बताया था कि कुछ समय बाद आधार कार्ड के बिना …