Sunday , June 25 2017
Smartphone heating temperature
Smartphone heating temperature

स्मार्टफोन गर्म क्यों हो जाते हैं? कारण पता करें और इसे फिक्स करें!

स्मार्टफोन्स के गर्म होने के कई कारण हो सकते हैं, खासकर फोन के बैटरी वाले इलाके में यह ज्यादा गर्म होता है। फोन गर्म होना साधारण सी बात है। पिछले कुछ दिनों में सैमसंग से लेकर शाओमी, LYF आदि के स्मार्टफोन फटने और आग लगने की घटनाएं हमारे सामने हैं। सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 की बैटरी में फाल्ट आने के कारण कंपनी को लाखों फोन वापस लेने पड़ रहे हैं। नोट 7 की बैटरी गर्म होकर फटने की कई घटनाएं हम पिछले दिनों देख चुके हैं। लेकिन सवाल यह है कि स्मार्टफोन्स में ऐसा होता क्यूं है? आखिर क्या कारण होता है कि फोन गर्म हो जाते हैं और कई बार फटकर इनमें आग भी लग जाती है।

स्मार्टफोन की लिथियम आयन बैटरी में ‘थर्मल रनवे’ नाम से एक प्रोसेस होता है। यह एक स्थिति होती है जिनमें पहले से गर्म हुई बैटरी में ज्यादा गर्माहट पैदा होती हो जाती है और स्थिति खतरनाक हो जाती है। कोई भी कंपनी स्मार्टफोन को काॅम्पैक्ट बनाने की कितनी भी कोशिश कर ले, बैटरी को लेकर सभी तरह की सुरक्षा अपना ले, लेकिन फिर भी कहीं ना कहीं चुक रह ही जाती है। फिर चाहे डिवाइस में बैटरी से गर्माहट को बाहर निकलने के लिए जगह ना मिले, तब भी कोई दुर्घटना हो सकती है।

कई बार आपने देखा होगा कि फोन को ज्यादा देर तक चार्ज करते हैं तो यह गर्म हो जाता है। इतना ही नहीं अगर आपने ज्यादा देर तक कोई गेम खेल लिया या फिर कई ऐप्स से स्क्रीन काफी समय तक आॅन रही, तब भी गर्म होने की स्थिति आ जाती है।

आखिर फोन गर्म होता क्यूं है?

प्रोसेसर का गर्म होना – पहले यह ना के बराबर होता था, लेकिन आजकल प्रोसेसर से पर्फोमेंस देने की इतनी उम्मीद की जाती है कि अब यह भी होने लगा है। उदाहरण के लिए, स्नैपड्रैगन 615, 801 और 810 प्रोसेसर वाले स्मार्टफोन में जब ज्यादा गेमिंग की जाती है तो यह गर्म हो जाते हैं और यह गर्माहट फोन के प्रोसेसर वाले भाग में महसूस की जा सकती है।

वर्कलोड – बैकग्राउंड में कई सारे ऐप्स चलने से डिवाइस पर भी भार पड़ता है। इस भार के चलते ही फोन गर्म हो जाता है।

कमजोर सिग्नल – ज्यादातर स्मार्टफोन निर्माता कंपनी की ओर से यह भी एक कारण दिया जाता है जो कि सही भी है। कमजोर या अस्थिर नेटवर्क डिवाइस के एन्टीना को ज्यादा एक्टिव रखता है और फोन गर्म हो जाता है।

आसपास का तापमान – इसे जानना बहुत जरुरी है। आप फोन से यह उम्मीद नहीं रख सकते कि वह भी बाहर के तापमान के हिसाब से अपना तापमान बदले। हमारे देश में ज्यादातर जगहों पर तापमान 35 से 38 डिग्री के आसपास रहता है। इसमें बैटरी के तापमान को भी जोड़ ले तो हम यह मानकर चल सकते हैं कि फोन 38-40 डिग्री तापमान में काम करता है जो कि फोन के लिए कई बार अधिक भी हो सकता है।

हार्डवेयर डिफेक्ट – हो सकता है आपके स्मार्टफोन में कोई हार्डवेयर डिफेक्ट हो, लेकिन इसकी संभावना ना के बराबर होती है। फिर भी ऐसा हो तो यह आपके फोन गर्म होने की समस्या पैदा कर सकता है। इस तरह के केस में जब आप फोन खरीदते हैं तो उसके कुछ दिनों बाद ही आपको फोन के गर्म होने का अहसास होने लग जाएगा।

इनके अलावा स्मार्टफोन के साथ इस्तेमाल की जाने वाली ऐसेसरीज जैसे बैटरी केस भी फोन गर्म होने के कारण हो सकते हैं। एक बैटरी केस आपके फोन को चार्ज करता है, लेकिन कई बार हो सकता है आपका फोन असामान्य रुप से गर्म हो जाए।

इन सभी केस में अगर आपको पता नहीं चल रहा है कि किस कारण आपको फोन गर्म हो रहा है। तब आप एक काम यह कर सकते हैं कि कई सारी ऐप्स एक समय ना चलाएं। दूसरा काम यह कि फोन के कई फीचर्स को एक साथ ना यूज करें। यह तब तक करिए जब तक आपके फोन का तापमान फिर से नाॅर्मल ना हो जाए।

Smartphone heating graphics

फोन गर्म होने की समस्या से बैटरी की लाइफ पर भी असर पड़ता है और यह जल्दी खत्म होने लगती है। प्रत्येक स्मार्टफोन को इस तरह बनाया जाता है कि यह एक विशेष तरह के तापमान में अच्छे से काम कर सके। इस तरह से स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ भी बनी रहती है। उदाहरण के लिए, ऐप्पल आईफोन 6 जीरो डिग्री से 35° तक के तापमान में अच्छे से काम करता है। हालांकि यह रेंज विभिन्न डिवाइस के लिए अलग हो सकती है। इसलिए अगर आसपास तापमान ज्यादा होगा तो आप अपने स्मार्टफोन से ठीक से काम करने की उम्मीद नहीं लगा सकते।

हीटिंग इश्यू या तापमान को फिक्स कैसे करें?

कभी-कभी कुछ छोटे काम ऐसे होते हैं जिनसे आप स्थिति पर नियंत्रण पा सकते हैं। ऐसे ही टिप्स कुछ नीचे दिए जा रहे हैं जो आपके स्मार्टफोन को अप्रत्याशित रूप से गर्म होने को रोक सकते हैं।

आॅरिजनल चार्जर का इस्तेमाल करें – कंपनी की ओर से दिया चार्जर ही इस्तेमाल के लिए बेस्ट होता है। अगर आपके पास यूनिवर्सल चार्जर है तो भी इसका कम इस्तेमाल करें और ज्यादा से ज्यादा आॅरिजनल चार्जर से ही डिवाइस को चार्ज करें।

Smartphone chargers original

बैकग्राउंड में चलने वाली ऐप्स का ध्यान रखें – एक ऐप को यूज कर होमबटन दबा दूसरी ऐप पर स्विच करने की सभी की आदत होती है। इस तरह कई बार एक ही समय दर्जनों ऐप्स बैकग्राउंड में खुली रहती है। इसलिए अगर आप इन ऐप्स को यूज नहीं कर रहे हैं तो इन्हें समय-समय पर क्लिन करते रहे और बंद करते रहे। इससे भी आपके फोन की बैटरी सही रहेगी।

पुरानी बैटरी रिप्लेस करे – अगर आपके पास ऐसा फोन है जो पुराना हो गया है लेकिन अभी भी परफेक्ट काम कर रहा है, लेकिन इसकी बैटरी जल्दी खत्म या गर्म हो जाती है तो आपको इसमें नई बैटरी रिप्लेस करवाने पर विचार करना चाहिए। अगर आप इसे रिप्लेस नहीं करवाना चाहते तो फिर कम से कम एक बार किसी एक्सपर्ट को जरुर दिखा लें।

चार्जिंग के समय फोन यूज ना करें – जो यूजर काफी सारे गेम्स खेलते हैं उनकी बैटरी जल्दी डिस्चार्ज हो जाती है। इस स्थिति में वे फोन को चार्ज कर ही गेम खेलना शुरु हो जाते हैं। यह बहुत ही गलत आदत है। इससे ना केवल फोन जल्दी गर्म हो जाता है। बल्कि यह फोन की बैटरी लाइफ को भी खत्म कर देता है।

अगर ऊपर दिए गए समाधानों के बाद भी आपकी समस्या हल नहीं होती है तो एक बार फोन से सभी तरह की अनआॅफिशियल ऐसेसरीज हटावें और फोन को कुछ दिन के लिए नाॅर्मल यूज करें। कहते है ना कि दुर्घटना से सावधानी भली, इसलिए फोन में ब्लास्ट या आग लगने जैसी घटना से बचने से पहले ही कोई उपाय कर लें। फोन गर्म होने की समस्या से ज्यादा परेशान हो तो एक बार सर्विस सेंटर जाकर भी दिखा ले।

यह आर्टिकल आपको कैसा लगा? क्या आप भी फोन जल्दी गर्म होने की समस्या से परेशान है? इस मामले में अपने अनुभव हमारे साथ कमेंट सेक्शन में जरुर शेयर करें।

आप टेकसंदेश के Guides/ How To सेक्शन में जाकर भी अन्य आर्टिकल पढ़ सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्वीटर या यूट्यूब पर बने रहें।

Check Also

AAdhar

नंबर डिएक्टिवेट होने से बचाएं – आधार कार्ड से मोबाइल नंबर को लिंक कैसे करवाएं?

जैसा कि हमने आपको पहले बताया था कि कुछ समय बाद आधार कार्ड के बिना …